Attitude Shayari

Attitude shayari

1Shares

Attitude shayari

Bulandi Tak Pahunchna Chahta Hoon Main Bhi,
Par Galat Raaho Se Hokar Jaun Itni Jaldi Bhi Nahi.

बुलंदी तक पहुंचना चाहता हूँ मै भी,
पर गलत राहो से होकर जाऊ इतनी जल्दी भी नही।


Ham Ja Rahe Hain vahan Jahan Dil Ki Ho Kadar,
Baithe Raho Tum Apni Adaen Liye Huye.

हम जा रहे हैं वहां जहाँ दिल की हो कदर,
बैठे रहो तुम अपने अदाएं लिए हुए।


Ek Isi Usool Par Gujaari Hai Zindagi Maine,
Jisko Apna Mana Use Kabhi Parkha Nahin.

एक इसी उसूल पर गुजारी है जिंदगी मैंने,
जिसको अपना माना उसे कभी परखा नहीं।


Tasalli Se Padhe Hote To Samajh Mein Aate Ham,
Zaroor Kuchh Panne Bina Padhe Hi Palat Diye Honge.

तसल्ली से पढ़े होते तो समझ में आते हम,
ज़रूर कुछ पन्ने बिना पढ़े ही पलट दिए होंगे।


Rahate Hain Aas-Paas Hi,
Lekin Saath Nahi Hote,
Kuchh Log Jalte Hain Mujhse,
Bas Khaak Nahi Hote.

रहते हैं आस-पास ही,
लेकिन साथ नही होते,
कुछ लोग जलते हैं मुझसे,
बस खाक नही होते


Bekhudi Ki Zindagi Ham Jiya Nahin Karte,
Jaam Doosron Se Chheenkar Ham Piya Nahin Karte,
Unko Mahobat Hai To Aakar Izahar Karen,
Peechha Ham Bhi Kisika Kiya Nahin Karate.

बेखुदी की जिंदगी हम जिया नहीं करते,
जाम दूसरों से छीनकर हम पिया नहीं करते,
उनको महोबत है तो आकर इज़हार करें,
पीछा हम भी किसीका किया नहीं करते।


Mere Saath Jab Main Khud Khada Hota Hoon,
Tab Main Qayamat Ke Har Toofaan Se Bada Hota Hoon.

READ  My Attitude Shayari in Hindi | 100+ Best Shayari

मेरे साथ जब मैं खुद खड़ा होता हूँ,
तब मैं क़यामत के हर तूफ़ान से बड़ा होता हूँ।


Husn Waalo Se Kah Do Itraana Chhod Den
Husn Nahi To Kya Itraana Hame Bhi Aata Hai.

हुस्न वालो से कह दो इतराना छोड़ दें
हुस्न नही तो क्या इतराना हमे भी आता है।


Kitni Hi Siddat Se Sabhaal Lo Zindagi Ko Tum,
Koi Na Koi Kami Rah Hi Jaegi, Mere Bin.

कितनी ही सिद्दत से सभाल लो ज़िन्दगी को तुम,
कोई न कोई कमी रह ही जाएगी, मेरे बिन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *