Sad Shayari

Sad Shayari in Hindi | Sad Shayari Images

1Shares
sad-shayari-hindi

At shayaricollections.in we have collected a huge number of top Sad Shayari in Hindi with images. In our daily life, we face many of the situations where we feel really low we do not get exact words to express our feelings. In such situations, Sad Shayari In Hindi always helps you to relate and express your current situation. So we believe that our hard work will help you. This Sad Shayari in Hindi is taken from different sources and few of them are written by us. So enjoy the treat of these best Sad Shayari in Hindi. You can easily share Sad Shayari through WhatsApp by clicking on button below each shayari.


दर्द से हाथ न मिलाते तो और क्या करते,
ग़म में आँसू न बहाते तो और क्या करते,
उसने मांगी थी हमसे रौशनी की दुआ,
हम अपना दिल न जलाते तो और क्या करते।


वो जिसे समझते थे जिंदगी,
मेरी धड़कनों का फरेब था,
मुझे मुस्कराना सिखा के,
वो मेरी रूह तक रुला गए।


हमने प्यार नहीं इश्क नहीं इबादत की है,
रश्मों से रिबाजों से बगाबत की है,
माँगा था हमने जिसे अपनी दुआओं में,
उसी ने मुझसे जुदा होने की चाहत की है।


अपनी पलकों को कभी हम भिगोये ही नहीं,
वो सोचते हैं के हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं के ख्वाबो में किसे देखते हो?
और हम हैं के एक उम्र से सोये ही नहीं।


मायने ज़िन्दगी के बदल गये अब तो,
कई अपने मेरे बदल गये अब तो,
करते थे बात आँधियों में साथ देने की..
हवा चली और सब मुकर गये अब तो।


Best Sad Shayari in Hindi with Images:

sad shayari hindi Images
Sad Shayari Hindi Image

ज़ख्म सब भर गए बस एक चुभन बाकी है,
हाथ में तेरे भी पत्थर था हजारों की तरह,
पास रहकर भी कभी एक नहीं हो सकते,
कितने मजबूर हैं दरिया के किनारों की तरह।


क्या अजीब था उनका मुझे छोड़ के जाना,
सुना कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं,
कुछ इस तरह बर्बाद हुए उनकी मोहब्बत में,
लुटा भी कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीं।


पल पल उसका साथ निभाते हम,
एक इशारे पर दुनिया छोड़ जाते हम,
समन्दर के बीच में फरेब किया उसने,
कहते तो किनारे पर ही डूब जाते हम।


खुदा ने लिखा ही नहीं तुझको मेरी किस्मत में शायद,
वरना खोया तो बहुत कुछ था तुझे पाने के लिए।


कभी छोटी सी बात पर आंसू बह जाते थे…
आज रोने तक का “मन” नही करता,
जी करता था लूटा दूं खुद को या लुटजाऊ खुद पे..
आज तो खोने को भी “मन” नही करता,


Another Top 10 Sad Shayari in Hindi with Images

sad shayari hindi images
Sad Shayari Hindi Image

अब भी ताज़ा हैं ज़ख्म मेरे सीने में,
बिन तेरे क्या रखा है ज़िन्दगी जीने में,
हम तो जिंदा हैं तेरा साथ पाने को बस,
वरना देर कितनी लगती है ज़हर पीने में।


कितना इख्तियार था उससे अपनी चाहत पर,
जब चाहा याद किया जब चाह भुला दिया,
अच्छे से जानता है वो मुझे भुलाने के तरीके,
जब चाहा हँसा दिया जब चाहा रुला दिया।


जिसे खुद से ही नहीं फुरसतें,
जिसे खयाल अपने कमाल का,
उसे क्या खबर मेरे शौक़ की,
उसे क्या पता मेरे हाल का।


दिल में हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर मुस्कुराहट सजाकर रखते है,
ये दुनिया सिर्फ खुशी में साथ देती है,
इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है।


सिर्फ चेहरे की उदासी से
भर आये तेरी आँखों में आँसू,
मेरे दिल का क्या आलम है
ये तो तू अभी जानता नहीं।

Sad Shayari Hindi Image

अंजाम-ए-वफ़ा ये है जिसने भी मोहब्बत की,
मरने की दुआ माँगी जीने की सज़ा पाई।


ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ
दर्द ही दर्द है,सुबह- शाम इसलिए चुप हूँ।
कह दु ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमे आया तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।


ना समझो कि हम आपको भुला सकेंगे।
आप नही जानते की दिल मे छुपा कर रखेंगे।
देख ना ले आपको कोई हमारी आँखों मे दूर से।
इसी लिए हम पालखे झुका के रखेंगे।


एक आदत सी हो गयी है चोट खाने की
भीगी हुए पलकों संग मुस्कुराने की,
काश अंजाम वफ़ा का पहले ही जानते..
तो कोशिश भी नहीं करते दिल लगाने की!


हम किताब थे किताब ही रह गए,
तुम कहानी थे और बदलते चले गये।


sad shayari hindi images
Sad Shayari Hindi Image

Best of 20 Sad Shayari in Hindi

Here are another best 20 Sad Shayari in Hindi with Images. This Sad Shayari are so intense that if you have ever fell in love and got hurted badly by someone, then you can definitely can relate yourself with these line. Better to take caution, this shayari can make you more sad and make you wander in your past. 😉


ना जाने इस ज़िद का नतीजा क्या होगा,
समझता दिल भी नहीं मैं भी नहीं और तुम भी नहीं।


आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की,
ये बात अब नही है मेरे इकतियार की,
देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है,
बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की….


बर्बाद कर गए वो ज़िंदगी प्यार के नाम से,
बेवफाई ही मिली हमें सिर्फ वफ़ा के नाम से,
ज़ख़्म ही ज़ख़्म दिए उस ने दवा के नाम से,
आसमान रो पड़ा मेरी मोहब्बत के अंजाम से।


कोई खुशियों की चाह में रोया,
कोई दुखों की पनाह में रोया,
अजीब सिलसिला हैं ये ज़िंदगी का..
कोई भरोसे के लिए रोया,
कोई भरोसा कर के रोया!!

वफ़ा और मोहब्बतों के ज़माने गये जनाब,
अब तो दिल को बहलाने का सामान है मोहब्बत!


आज दिल को क्या हुआ, खुदा जाने,
बुझती हुई शमा, फिर जलाने को जी करता है,
आफतों ने, जर्जर कर दिया घर मेरा,
उसकी दरोदीवार, फिर सजाने को जी करता है,

हर दर्द को दफ़न कर गहराई में कहीं,
दो पल के लिए सब कुछ भुलाया जाये,
रोने के लिए घर में कोने बहुत से हैं,
आज महफ़िल में चलो सबको हंसाया जाये।


आज आसमान के तारों ने मुझे पूछ लिया,
क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है उसके लौट आने का।
मैंने मुस्कुराकर कहा,
तुम लौट आने की बात करते हो,
मुझे तो अब भी यकीन नहीं उसके जाने का।


एक कहानी सी दिल पर लिखी रह गयी,
वो नजर जो उसे देखती रह गयी,
वो बाजार में आकर बिक भी गए,
मेरी कीमत लगी की लगी रह गयी।


चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,
ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगा नहीं।


My Choice of Sad Shayari in Hindi with Images

This is a section containing my choice of sad Shayari. I have chosen this Shayari wisely which touched my heart deeply. This Shayari will definitely allow you to relate.

वो रुठते रहे और हम मानते रहे,
उनकी राहों में पलके बिछाते रहे,
उन्होंने कभी पलट कर भी नहीं देखा,
हम पलक झपकाने से भी कतराते रहे।


प्यार के दर्द में इस दिल को तड़पते देखा,
अपने सामने हर रिस्ते को बिखरते देखा,
कितने प्यार से सजाई थी ख्वाबों की दुनिया,
जिसको अपनी आँखों के सामने उजड़ते देखा।


इस मोहब्बत की किताब के,
बस दो ही सबक याद हुए,
कुछ तुम जैसे आबाद हुए,
कुछ हम जैसे बरबाद हुए।


चल आ तेरे पैरो पर
मरहम लगा दूं ऐ मुक़द्दर..
कुछ चोटे तुझे भी आई होगी,
मेरे सपनो को ठोकर मारकर!


देखी है बेरुखी की आज हम ने इन्तेहाँ,
हमपे नजर पड़ी तो वो महफ़िल से उठ गए।


गिला भी तुझ से बहुत है मगर मोहब्बत भी,
वो बात अपनी जगह है ये बात अपनी जगह।


लोग बेवजह ढूँढते हैँ खुदखुशी के तरीके हजार,
इश्क करके क्यों नहीँ देख लेते वो एक बार।


उसके चेहरे पर इस क़दर नूर था,
कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था,
बेवफा भी नहीं कह सकते उसको ज़ालिम,
प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।


वो कैसे लौट आये के फुरसत उसे नहीं,
दुनिया समझ रही है मोहब्बत उसे नहीं।
दिल की ज़मीन उसकी है बंजर इसी लिए,
जज्बों की बारिशों की जो आदत उसे नहीं।


हालात ने तोड़ दिया हमें
कच्चे धागे की तरह,
वरना हमारे वादे भी कभी
जंजीर हुआ करते थे।


वो एक पल ही काफी है… जिसमे तुम शामिल हो,
उस पल से ज्यादा तो ज़िंदगी की ख्वाहिश ही नहीं मुझे।

sad shayari hindi

उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था,
अपना भी नही बनाया और किसी और का भी ना होने दिया।


ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ
दर्द ही दर्द है,सुबह- शाम इसलिए चुप हूँ।
कह दु ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमे आया तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *